मथुरा में किसान कल्याण योजना की शुरुआत

दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मथुरा में पशुधन आरोग्य और विज्ञान मेले का दौरा किया और वहां पशुधन की स्वास्थ्य देखभाल और रोगों से बचाव के लिए विभिन्न तौर तरीकों और तकनीकों के बारे में जानकारी ली। प्रधानमंत्री ने मेले में लगाए गए विभिन्न स्टॉल्स का मुआयना किया जहां उन्हें पशुधन को होने वाली बीमारियों के बचाव और रोकथाम के बारे में बताया गया।यहां लगे एक स्टॉल पर चिकित्सकों ने सींग के कैंसर का ऑपरेशन किया तो एक अन्य स्टॉल पर कृत्रिम गर्भाधान, गन से गर्भाधान और पशुधन में सोनोग्राफी के बारे में प्रधानमंत्री को बताया गया। प्रधानमंत्री ने ब्रुसेला टीकाकरण के बारे में भी जानकारी ली। ग़ौरतलब है कि पशुओं को होने वाली ब्रुसेला बीमारी का कोई इलाज नहीं है और इससे बचाव का एकमात्र उपाय टीकाकरण ही है। इतना ही नहीं, पशुओं से पशुपालकों को ब्रुसेला होने का जोखिम भी हमेशा बना रहता है।

ऐसे में पशुधन और पशुपालकों के लिए ब्रुसेला टीकाकरण बहुत महत्वपूर्ण है। प्रधानमंत्री ने मेले में आए पशु चिकित्सकों और विशेषज्ञों से बातचीत की। उन्होंने मुंहपका-खुरपका से बचाव के लिए टीकाकरण को भी देखा प्रधानमंत्री ने मेले में देशभर से आए किसानों और पशुपालकों के एक समूह से मुलाकात की।इस दौरान प्रधानमंत्री को बताया गया कि कैसे केन्द्र सरकार की योजनाएं और विभिन्न कार्यक्रम किसानों के जीवन में सकारात्मक बदलाव ला रहे हैं। इससे पहले, पशु आरोग्य और विज्ञान मेले में पंहुचने पर प्रधानमंत्री मोदी ने गौ पूजा में भी हिस्सा लिया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी प्रधानमंत्री मोदी के साथ उपस्थित थे।