मैनपाट में इसी साल से शुरू होगी चाय की खेती

रायपुर।अब छत्तीसगढ़ के मैनपाट में भी चाय की खेती की जाएगी. इस सीजन से ही मैनपाट में चाय की खेती शुरू करने की तैयारी सरकार कर रही है. राज्य सरकार में खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने इस बात के संकेत दिए हैं. मैनपाट में चाय की खेती शुरू करने के लिए विशेषज्ञों को बुलाया गया है. पहले चरण में प्रयोग के तौर पर चाय की खेती की जाएगी. यदि यह प्रयोग सफल रहा तो व्यवसायिक तौर पर मैनपाट में भी चाय की खेती शुरू कराई जाएगी.

खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने हाल ही में मीडिया से चर्चा में कहा कि मैनपाट में चाय की खेती इसी सीजन से शुरू की जाएगी. इसके लिए विशेषज्ञों को बुलाया गया है. जल्द ही चाय की खेती की कवायद शुरू कर दी जाएगी. मैनपाट में चाय की खेती के अनुकुल वातावरण है. इसका लाभ मिलेगा.

पहाड़ी आलू की खेती के लिए मशहूर

बता दें कि पहाड़ी आलू और विदेशी फसल टाउ की खेती के लिए सरगुजा जिले का मैनपाट मशहूर है. मैनपाट सीतापुर विधानसभा क्षेत्र का हिस्सा है. मंत्री अमरजीत भगत का निर्वाचन क्षेत्र भी यही है. यहां की जनता ने लगातार चौथी बार उन्हें विधायक के रूप में चुना है. मंत्री अमरजीत का कहना है कि वे क्षेत्र की जनभावनाओं के अनुरूप विकास और निर्माण कार्यों के साथ क्षेत्रवासियों को आय उपार्जक गतिविधियों से जोड़ने में लगे हैं.

जशपुर में पहले से हो रही चाय की खेती

मंत्री अमरजीत ने बताया कि जशपुर जिले में व्यावसायिक तौर पर चाय की खेती पहले से ही की जा रही है. पिछले दिनों जशपुर प्रवास के दौरान चाय की खेती का अवलोकन किया था, वहीं से विचार आया कि मैनपाट में भी चाय की खेती कराई जाएगी. जशपुर और मैनपाट का मौसम लगभग एक समान है. इसलिए विशेषज्ञों से चर्चा की और मैनपाट में इसी सीजन से चाय की खेती शुरू करने का निर्देश दिए हैं.

news source-(NEWS18)