पांच दिवसीय अफ्रीका दौरे पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू

दिल्ली। उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू गुरुवार को अफ्रीका की पांच दिवसीय राजकीय यात्रा पर रवाना हो गए। वह 10 से 14 अक्टूबर के बीच अफ्रीका के कोमोरोस और सिएरा लियोन की यात्रा करेंगे।उप राष्ट्रपति ने रवाना होने से पहले कहा कि भारत और अफ्रीका के बीच परस्पर गहरे ऐतिहासिक संबंध रहे हैं। हाल के वर्षों में अफ्रीका ने तीव्र आर्थिक प्रगति की है। इंफ्रास्ट्रक्चर और सामाजिक मानकों जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य पर भी अफ्रीका की प्रगति सराहनीय है। अफ्रीका की उन्नति में भारत यथासंभव सहयोग करने के लिए सदैव तत्पर है। वह दोनों देशों के शीर्षस्थ नेतृत्व से द्विपक्षीय और वैश्विक मुद्दों पर अकेले और शिष्टमंडलस्तर पर चर्चा करेंगे। इसके अलावा द्विपक्षीय समझौतों पर हस्ताक्षर करेंगे।

उप राष्ट्रपति सचिवालय के अनुसार नायडू यात्रा के पहले चरण में कोमोरोस जाएंगे। इसके बाद वह सिएरा लियोन जाएंगे। कोमोरोस की राजधानी मोरोनी पहुंचने पर नायडू कोमोरोस संघ के अध्यक्ष अजाली अस्सुमानी से मिलेंगे। बाद में कोमोरोस में रहने वाले भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे।11 अक्टूबर को उप राष्ट्रपति, कोमोरोस संघ के अध्यक्ष के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता करेंगे। इसके बाद वह दोनों देशों के बीच विभिन्न क्षेत्रों में समझौतों पर हस्ताक्षर के गवाह बनेंगे। दोनों प्रेस के लिए संयुक्त बयान भी जारी करेंगे।

उप राष्ट्रपति 13 अक्टूबर को सियरा लियोन गणराज्य के राष्ट्रपति जूलियस माडा बायो के साथ मुलाकात करेंगे। बाद में उनके साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता होगी और समझौतों पर हस्ताक्षर के साक्षी बनेंगे। उसी दिन, नायडू भारतीय समुदाय को भी संबोधित करेंगे। 14 अक्टूबर को दिल्ली लौटने से पहले वह संसद के अध्यक्ष डॉ. अबास बुंडू से मिलेंगे।उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू की अफ्रीका की यह दूसरी यात्रा है। इससे पहले नवंबर 2018 में  वह बोत्सवाना, जिम्बाब्वे और मलावी का दौरा कर चुके हैं।