कोच्चि-मंगलुरु गैस पाइपलाइन का उद्धाटन, PM ने बताए फायदे

दिल्ली . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोच्चि-मंगलुरु प्राकृतिक गैस पाइपलाइन के उद्घाटन कार्यक्रम में हिस्सा लिया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने इस पाइपलाइन के फायदे, अहमियत पर कई सारे बातें की. पीएम मोदी ने कहा कि ‘कोच्चि-मंगलुरू पाइप लाइन इस बात का बहुत बड़ा उदाहरण है कि विकास को प्राथमिकता देकर सभी मिलकर काम करें, तो कोई भी लक्ष्य कठिन नहीं होता’

इस कार्यक्रम में पीएम के साथ केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री, कर्नाटक और केरल के राज्यपाल और मुख्यमंत्री भी मौजूद रहे.

पीएम ने कहा कि ‘कोच्चि-मंगलुरू पाइप लाइन प्रोजेक्ट में कई दिक्कतें भी आईं, लेकिन हमारे श्रमिकों, इंजीनियरों, किसानों और राज्य सरकारों के सहयोग से ये काम पूर्ण हुआ. कहने को तो ये पाइप लाइन है, लेकिन दोनों राज्यों के विकास को गति देने में इसकी बहुत बड़ी भूमिका होने वाली है.’

पीएम ने गिनाए कोच्चि-मंगलुरू पाइप लाइन के फायदे

पीएम ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कोच्चि-मंगलुरू पाइप लाइन प्रोजेक्ट की वजह से जनता को क्या फायदा होगा इस पर भी अपनी बात रखी. उन्होंने बिंदूवार इसके फायदे गिनाए.

ये पाइप लाइन दोनों राज्यों में लाखों लोगों के लिए ईज ऑफ लिविंग बढ़ाएगी. दूसरा ये पाइप लाइन दोनों ही राज्यों के गरीब, माध्यम वर्ग और उद्यमियों के खर्च कम करेगी. तीसरा ये पाइप लाइन शहरों में सिटी गैस डिस्ट्रब्यूशन सिस्टम का माध्यम बनेगी. चौथा, ये अनेक शहरों में सीएनजी आधारित ट्रांस्पोर्ट सिस्टम को विकसित करने का माध्यम बनेगी. पांचवा ये मैंगलोर कैमिकल और फर्टिलाइजर प्लांट को ऊर्जा देगी, कम खर्च में खाद बनाने में मदद करेगी. छठा ये पाइप लाइन मैंगलोर रिफाइनरी और पेट्रो कैमिकल को ऊर्जा देगी, स्वच्छ ईंधन देगी. 7वां फायदा, ये दोनों ही राज्यों में प्रदूषण कम करेगी. 8वां, प्रदूषण कम करने का सीधा असर पर्यावरण पर होगा. 9वां, पर्यावरण बेहतर होने से लोगों की सेहत अच्छी होगी. 10वां, जब प्रदूषण कम होगा, शहरों में गैस आधारित सेवा होगी, तो टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलेगा.

पाइपलाइन निर्माण में हुआ रोजगार सृजन: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने बताया कि ‘इस पाइप लाइन के निर्माण के दौरान 12 लाख मानव दिवस का रोजगार सृजन हुआ है. पाइप लाइन के शुरू होने के बाद भी रोजगार और स्वरोजगार का एक नया इकोसिस्टम केरल और कर्नाटक में बहुत तेजी से विकसित होगा.’

एलपीजी से जुड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर भी हुआ मजबूत: पीएम मोदी

इतिहास का हवाला देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि- ‘लबे समय तक भारत में LPG कवरेज की स्थिति क्या रही ये हम सभी जानते हैं. वर्ष 2014 तक जहां 14 करोड़ LPG कनेक्शन देश में थे, वहीं बीते 6 वर्षों में इतने ही नए कनेक्शन और दिए गए हैं. उज्ज्वला योजना जैसी स्कीम से देश के 8 करोड़ से ज्यादा परिवारों के घर कुकिंग गैस तो पहुंची ही है. साथ ही इससे एलपीजी से जुड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर भी देश में मजबूत हुआ है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *